घराट

खबर पहाड़ से-

कास्तकारों ने मुआवजे को लेकर करवाई जांच।

1 min read

नौगांव/ उत्तरकाशी : तसहील बड़कोट के अंतर्गत सिमलसारी गैर मोटर मार्ग पर अभीतक कुछ कास्तकारों को मुआवजा नहीं मिला है जिसको लेकर की कास्तकार तहसील और विभाग के चकर काट रहे हैं।
सिमलसारी गैर मोटर मार्ग की लंबाई लगभग 7किमी है और पिछले तीन वर्षों से कुछ ग्रामीणों को मुआवजा नहीं मिला है।
मुआवजे की जांच का मामला जिलाधिकारी कार्यलय जयदेव चौहान निवासी कफनौल के माध्यम से पंहुचा जिसमें जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी बड़कोट को जांच के निर्देश दिये तो सोमवार को नायव तहसीलदार व पटवारी सहित संबधित विभाग मौके पर पंहुचा जिसमें ग्रामीणों ने अपनी बात रखी हांलाकि ब्रिडकुल विभाग के अधिकारी कर्मचारी बिना दास्तावेज पंहुचे थे जिसमें जांच अधिकारीयों ने और कास्तकारों ने आपत्ति जताई और बताया कि कास्तकारों के मुआवजे के लिये शासन स्तर पर मांग कर दी गयी है और जब भी वजट आता है जल्द वंचित कास्तकारों को मुवाजा दिया जायेगा।
कास्तकार फुलक सिहं रमोला गैर,पृतिराम नौटियाल दारसौं,जयदेव चौहान कफनौल,प्रदीप चौहान कफनौल ,कबुल चंद रमोला गैर,सरत चौहान कफनौल,धर्म सिहं चौहान गैर,वचन लाल,सकल चंद रमोला,विजय चौहान,नारायण रमोला,विनोद चौहान गैर,शिव प्रसाद नौटियाल,त्रिलोक सिहं सहित दर्जनभर कास्तकारों ने राजस्व विभाग और पीएमजेएसवाई/ब्रिडकुल विभाग पर जांच अधिकारीयों को सामने आरोप लगाया कि मुवाजा देने में विभाग ने कास्तकारों के साथ भेदभाव किया है जिससे कास्तकारों की भूमी का सही आंकलन नहीं हुआ।
कास्तकारों ने संबधित जांच टीम और विभाग से जल्द मुआवजे की मांग की है और यदि समय पर समस्या का समाधान नहीं हुआ तो कास्तकार न्यायलय में अपील की भी बात कर रहे हैं।
अब देखना यह होगा कि नायब तहसीलदार बड़कोट के निगरानी में हुई जांच कितनी कारगार साबित होती है और कबतक कास्तकारों उनकी भूमी का प्रतिकर दिया जाता है यह देखना होगा।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *