May 19, 2024

घराट

खबर पहाड़ से-

मसूरी – भव्यता के साथ निकाली गई कन्हैया की डोली, दर्शन के लिए श्रद्धालुओं का उमड़ा सैलाब।

1 min read

मसूरी : भगवान कृष्ण जन्माष्ठमी के पश्चात पहाड़ों की रानी मसूरी में भगवान कृष्ण की डोली शोभायात्रा धूमधाम से निकाली गई। इस मौके पर पूरी मसूरी कृष्णभक्ति से झूम उठी। शोभायात्रा श्री सनातन धर्म मंदिर से शुरू होकर गांधी चौक तक गई। जिसमें बडी संख्या में श्रद्धालुओं ने प्रतिभाग किया।
भगवान कृष्ण जन्माष्ठमी के बाद मसूरी में भव्य कन्हैया की डोली शोभायात्रा निकाली जाती है जिसके तहत प्रातः श्री सनातन धर्म मंदिर में भगवान कृष्ण की प्रतिमा को स्नान करा श्रृंगार किया गया व छप्पन भोग लगाये गये। उसके बाद भव्य शोभा यात्रा निकाली गई जो मंदिर से मलिंगार, लंढौर बाजार, घंटाघर, कुलडी, मालरोड, शहीद स्थल होते हुए गांधी चौक तक गई। शोभायात्रा बैंड बाजों व पारंपरिक सांस्कृतिक टोलियों के नृत्य के साथ निकाली गई। रास्ते भर श्रद्धालुओं ने शोभायात्रा में शामिल लोगों को प्रसाद वितरित किया गया। कुलड़ी पहुंचने पर शोभा यात्रा का लंढौर में गुरूसिंह सभा, राधाकृष्ण मंदिर समिति व गांधी चौक पर लक्ष्मीनारायण मंदिर समिति की ओर से स्वागत किया गया। इस मौके पर जहां विभिन्न कीर्तन मंडली रास्ते भर भजन कीर्तन करती चल रही थी वहीं भगवान कृष्ण सहित अन्य देवी देवताओं की मनमोहन झांकियों ने श्रद्धालुओं का मन मोहा। शोभायात्रा में सबसे आकर्षण भगवान कृष्ण की डोली रही जिसके दर्शन करने श्रद्धालु उमड़ पडें व दर्शन कर परिवार की खुशहाली की कामना की। भगवान कन्हैया की डोली के दर्शन करने मसूरी के आस पास के ग्रामीण बड़ी संख्या में अपने पारंपरिक परिधान पहन कर आते हैं।

इस मौके पर पालिकाध्यक्ष अनुज गुप्ता सहित मंदिर समिति के अध्यक्ष दीपक गुंप्ता सचिव नीरज अग्रवाल, अनुज तायल, वैभव तायल, रवीद्र गोयल, अनिल गोयल, सुनील पंवार, संदीप अग्रवाल, उपेंद्र पंवार, महेंद्र अग्रवाल, सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौजूद रहे। इस मौके पर मंदिर समिति के संदीप अग्रवाल ने कहा कि मसूरी में कन्हैया की डोली निकालने की परंपरा आजादी से पहले से चली आ रही है जिसे वर्तमान पीढ़ी भी इसी परंपरा का निवर्हन करते हुए जारी रखे हैं। विगत दो वर्ष तक कोरोना के कारण डोली नहीं निकाली गई लेकिन इस वर्ष पूरी भव्यता के साथ डोली निकाली जा रही है जिसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालु प्रतिभाग कर रहे हैं।

वहीं मंदिर के पुजारी सुनील नौटियाल ने बताया कि इस वर्ष पूरे भव्यता के साथ कन्हैया की डोली निकाली जा रही है जिसकी प्रातः विधिवत पूजा अर्चना की गई व उसके बाद डोली निकाली गई। वहीं मंदिर समिति के उपाध्यक्ष उपेंद्र पंवार ने बताया कि डोली आजादी से पूर्व से निकाली जा रही है जिसमें मसूरी सहित आसपास के ग्रामीण बड़ी संख्या में प्रतिभाग करते हैं।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *