घराट

खबर पहाड़ से-

उत्तराखंड में कांग्रेस का घोषणापत्र जारी, पांच न्याय और 25 गारंटी का वायदा

1 min read

कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने रविवार को पार्टी के प्रदेश कार्यालय में उत्तराखंड में लोकसभा चुनाव के लिए पार्टी का घोषणापत्र जारी किया। उन्होंने कहा कि यह न्यायपत्र पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा और न्याय यात्रा में मिले जनता के फीडबैक के आधार पर तैयार किया गया है। युवाओं, महिलाओं, किसानों, श्रमिकों और समाज के वंचित वर्गों के लिए पांच न्याय और 25 गारंटी का वायदा इसमें किया गया है।

प्रदेश के कांग्रेसी क्षत्रपों पर चुनाव प्रचार का बड़ा जिम्मा
लोकसभा के चुनाव में उत्तराखंड में कांग्रेस के प्रचार युद्ध का बड़ा दारोमदार प्रदेश के ही बड़े नेताओं पर रहने जा रहा है। पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा, नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के साथ ही पूर्व कैबिनेट मंत्रियों और विधायकों को प्रत्याशियों के साथ प्रचार के मोर्चे पर डटना होगा।
वहीं, प्रदेश संगठन की कठिनाई यह भी है कि दिग्गज नेता किसी एक लोकसभा क्षेत्र तक सिमट कर रह गए हैं। अन्य चुनाव क्षेत्रों में प्रचार में उनका सहयोग लेने में पार्टी और प्रत्याशियों को मशक्कत करनी पड़ सकती है। लोकसभा में पार्टी के केंद्रीय नेता बतौर स्टार प्रचारक चुनाव प्रचार के लिए पहुंचेंगे, लेकिन उनके कार्यक्रम सीमित रह सकते हैं। बताया जा रहा है कि प्रत्याशियों की ओर से राजस्थान के पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट, हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा, इमरान प्रतापगढ़ी जैसे नेताओं के स्टार प्रचारक के रूप में आने की अपेक्षा कर रहे हैं। यद्यपि, पार्टी की ओर से जारी स्टार प्रचारकों की सूची में इन नेताओं के नाम नहीं हैं।
करन माहरा और यशपाल आर्य ने संभाला मोर्चा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा और नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य सभी पांचों लोकसभा क्षेत्रों में पार्टी प्रत्याशियों के पक्ष में प्रचार कर रहे हैं। प्रदेश संगठन की ओर से उनके कार्यक्रम तय किए गए हैं। प्रदेश के स्टार प्रचारकों में पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत की सर्वाधिक मांग है। यह अलग बात है कि हरीश रावत के लिए प्रत्येक लोकसभा क्षेत्र के लिए समय निकालना चुनौतीपूर्ण है।
हरिद्वार लोकसभा क्षेत्र से उनके पुत्र वीरेंद्र रावत कांग्रेस प्रत्याशी है। वीरेंद्र को जिताने का दायित्व उन्हीं के कंधे पर है। पूर्व कैबिनेट मंत्रियों और विधायकों से साध रहे समीकरण पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व चकराता विधायक प्रीतम सिंह टिहरी लोकसभा क्षेत्र से पार्टी प्रत्याशी जोत सिंह गुनसोला के चुनाव प्रचार में व्यस्त हैं। अन्य लोकसभा क्षेत्रों में चुनाव प्रचार में अब तक उनका उपयोग कम ही हुआ है।
पूर्व कैबिनेट मंत्रियों शूरवीर सिंह सजवाण, नवप्रभात, हरक सिंह रावत, हीरा सिंह बिष्ट, मंत्री प्रसाद नैथानी एवं गोविंद सिंह कुंजवाल का भी पार्टी चुनाव प्रचार में उपयोग कर रही है। यद्यपि, कांग्रेस की ओर से जारी स्टार प्रचारकों की सूची में वरिष्ठ नेता व पूर्व कैबिनेट मंत्री हीरा सिंह बिष्ट का नाम नहीं है। बिष्ट इसे लेकर नाराजगी भी व्यक्त कर चुके हैं। इसके साथ ही पार्टी के 18 विधायकों, पूर्व विधायकों एवं पूर्व सांसदों को भी सामाजिक समीकरण ध्यान में रखकर क्षेत्रवार प्रचार के लिए मैदान में उतारा गया है।

 

Spread the love