घराट

खबर पहाड़ से-

चारधाम यात्रा चरम पर जगह जगह जाम को हटाने मैं पुलिस के छूट रहे पसीने।

1 min read

विनय उनियाल

जोशीमठ : पित्र पक्ष लगते ही बद्रीनाथ धाम की यात्रा मैं बढ़ोतरी होने से जहाँ स्थानीय लोगो मैं खुशी है। वही यात्रा बढ़ते ही फिर से जगह जगह जाम की स्थिति बनी हुई है। हालांकि जाम से निपटने के लिये पूरा पुलिस बल जगह जगह तैनात किया गया है। लेकिन संकरी सड़क होने से जगह जगह जाम लग रहा है। जाम खुलवाने के लिये पुलिस को पसीना बहाना पड़ रहा है। वही दूसरी ओर जोशीमठ मुख्य बाजार मैं जाम न लगे इसके लिये जोशीमठ मैं वन वे सिस्टम लागू किया गया है। लेकिन बड़े बड़े अधिकारी व रसूकदार वन वे सिस्टम का पालन नही कर रहे है। कई अधिकारी व रसूखदार तो ड्यूटी पर तैनात पुलिस के जवानो पर रौब तक दिखाने से बाज नही आ रहे है। तो कई अपने को अधिकारी बताकर वन वे नियम को तोड़ कर मुख्य बाजार से आवाजाही कर जाम लगने का कारण बन रहे है। अब प्रश्न यह उठता है कि क्या ये वन वे सिस्टम का नियम केवल आम लोगो के लिये है। क्या ये नियम अधिकारियों पर लागू नही होता है। अधिकारियों को ड्यूटी पर तैनात जवानों पर रौब दिखाना कहा तक जायज है। अधिकारियों को भी वन वे नियम का पालन करना ही पड़ेगा। जिससे जाम से निजाद मिल सकेगा।
स्थानीय लोगो की माने तो नियम भी अधिकारी ही बनाते है। और नियम का पालन भी अधिकारी नही कर रहे। जो कि सरासर गलत है। रविवार को एक आर्मी के ऑफिसर द्वारा पुलिस के जवानो पर अधिकारी होने का रौब दिखाकर वन वे नियमों को दरकिनार किया गया। जिससे आम लोगो मैं नाराजगी दिखाई दी। स्थानीय लोगो की माने तो जब अधिकारी ही नियमो का पालन नही कर रहे है तो आम लोगो से नियमो के पालन करने की अपेक्षा क्यो कर रहे है। वन वे नियम सब पर लागू होने चाहिये चाहे व अधिकारी हो या आम लोग।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *