घराट

खबर पहाड़ से-

उत्तराखंड में वोटर लिस्ट से बाहर किए गए 1.77 लाख नाम, इस जिले के सबसे ज्‍यादा लोग शामिल

1 min read

चुनाव में पारदर्शी व्यवस्था और फर्जीवाड़े की आशंका को समाप्त करने के लिए पहली शर्त है पुख्ता मतदाता सूची। मतदाता सूची को भारत निर्वाचन आयोग के निर्देश पर समय-समय पर अपडेट भी किया जाता है। लोकसभा चुनाव के मद्देनजर आयोग की मशीनरी बहुत पहले से इस काम मे जुट गई थी। ताकि वोटर लिस्ट से डुप्लीकेट नाम, स्थानांतरण और मृत्यु आदि की दशा में अप्रासंगिक नाम बाहर किए जा सकें। इस चुनाव के बिगुल बजने से पहले ही निर्वाचन तंत्र ने इस काम को पूरा कर दिया था। इसके तहत प्रदेश के 13 जिलों की मतदाता सूची से एक लाख 77 हजार 619 नाम बाहर किए गए।

विभिन्न कारणों से बाहर किए गए ये नाम
मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय में दर्ज जानकारी के मुताबिक, वोटर लिस्ट से ये नाम विभिन्न कारणों से बाहर किए गए हैं। दरअसल, मतदाता सूची को अपडेट करने के लिए जिलों में जिला निर्वाचन अधिकारी बीएलओ आदि के माध्यम से मतदाताओं का सत्यापन करवाते हैं। सूची अपडेट करने के लिए विशेष शिविर भी लगाए जाते हैं। वोटर लिस्ट से हटाए गए मतदाताओं की बात करें तो सर्वाधिक 34 हजार 49 नाम देहरादून जिले से हटाए गए। इसके बाद हरिद्वार व ऊधम सिंह नगर जैसे बड़े जिलों से हटाए गए हैं। दूसरी तरफ सबसे कम नाम चंपावत व रुद्रप्रयाग से बाहर किए गए हैं।

जिलावार मतदाता सूची से हटाए गए नाम
जिला, संख्या
देहरादून, 34,049
हरिद्वार, 25,936
ऊधम सिंह नगर, 22,415
पौड़ी, 17,647
नैनीताल, 16,020
पिथौरागढ़, 14,561
अल्मोड़ा, 12,360
टिहरी, 8,687
चमोली, 6,506
उत्तरकाशी, 6,489
बागेश्वर, 4,673
रुद्रप्रयाग, 4,242
चंपावत, 4,034

Spread the love