घराट

खबर पहाड़ से-

प. दीनदयाल उपाध्याय पार्क लंढौर बना असामाजिक तत्वों का अडडा।

1 min read

मसूरी : मसूरी के लंढौर बाजार स्थित प. दीन दयाल उपाध्याय पार्क की दुर्दशा होने से स्थानीय लोगों में आक्रोश है। जबकि प्रदेश में भाजपा की सरकार है व मसूरी से भाजपा के विधायक हैं उसके बाद कई वर्षों से पार्क की दुर्दशा हो रखी है। वर्तमान में यह स्थल असामाजिक तत्वों व शराबियों का अडडा बनने के साथ ही शौचालय भी बना है।
लंढौर बाजार सिथत प. दीन दयाल उपाध्याय की दुर्दशा पर लंढौर कल्याण समिति के अध्यक्ष रवि गोयल ने कहा कि गत 15 सालों से प. दीनदयाल उपाध्याय पार्क की दुर्दशा हो रखी है। यह पहले नगर पालिका के पास था जिस पर पालिका ने यहां पर फव्वारा लगाया जो कुछ दिन चला व खराब होने के बाद ऐसे ही पडा रहा बाद में लोगों के कहने पर फव्वारे का पानी हटाया गया व फव्वारे को तोड दिया गया। व नया पार्क बने जिस पर एमडीडीए से वार्ता की गई लेकिन उन्होंने भी कुछ नहीं किया। दो बार मंत्री व मसूरी विधायक गणेश जोशी को ज्ञापन दिया है लेकिन अभी तक कुछ नहीं हुआ। उन्होंने बताया कि यह इन दिनों असामाजिक तत्वों का अडडा बन गया यहां पर लोग रात में शराब पीते हैं व पेशाब करते हैं। स्थानीय व्यापारियों को उम्मीद थी कि एमडीडीए कोई अच्छा सौदर्यीकरण करेगा ताकि पर्यटक आकर्षित हो व पार्क सुंदर लगे लेकिन अभी तक कोई काम शुरू नहीं किया गया। जबकि 25 सितंबर प. दीन दयाल उपाध्याय की जन्मतिथि आ रही है। पार्क के समीप दुकान चलाने वाले व्यवसायी खुशदेव सिंह ने बताया कि प्रशासन इसकी कोई देखरेख नहीं कर रहा जिस कारण यहां पर लोग शराब पीते हैं व पेशाब करते है। विगत दिनों पालिका ने फव्वारा तो तुड़वा दिया लेकिन उसके बाद यह पार्क खंडहर बन गया। उन्होंने कहा कि इस पार्क को शीघ्र बनाया जाय ताकि यहां से गंदगी हटे व इसका सौदर्यीकरण का कार्य पूरा हो सके। एमडीडीए के माध्यम से इसे बनाया जाना है लेकिन उन्होंने भी कार्य शुरू नहीं किया। जबकि नगर पालिका ने इसकी एनओसी भी एमडीडीए को दे दी है। इस संबध में एमडीडीए के अधिशासी अभियंता अतुल गुप्ता ने कहा कि पहले दीनदयाल पार्क नगर पालिका ने बनाया था व वहां पर फव्वारा लगाया गया था जिस पर लंढौर निवासियों ने एक प्रस्ताव एमडीडीए को दिया था जिसे अवस्थापना कमेटी में रखा गया है जैसे ही कमेटी से प्रस्ताव पास होगा उसके बाद तुरंत टेडर निकाल कर पार्क का सौदर्यीकरण करवा दिया जायेगा।

Spread the love